22 अप्रैल 2019, टूण्डला( रामनगर): ब्रम्हाकुमारी सेवा केंद्र पर बनाया गया “विश्व पृथ्वी दिवस”

22 अप्रैल 2019, टूण्डला( रामनगर): ब्रम्हाकुमारी सेवा केंद्र पर बनाया गया “विश्व पृथ्वी दिवस” जिसमें मुख्य अतिथि बहन रेखा गुप्ता जूलॉजी अध्यापिका (क्राइस्ट द किंग )कॉलेज उन्होंने अपने शब्दों से पृथ्वी को शुद्ध बनाने की बात कही वातावरण दूषित हो रहा है हमारे यहां पहले हेडपंप हुआ करते थे कुआं होते थे हम पानी खींचे थे और आज सभी समर सेवल से पानी निकालते हैं जिससे अच्छा पानी रहा ही नहीं । हम प्रकृति से लेकर जितना शुभ वाइब्रेशन देंगे उतना हमारा वातावरण शुद्ध होगा। सेवा केंद्र प्रभारी बी के विजय बहन जी, ने बताया धरती की बस यही पुकार धरती कह रही बार-बार सुन लो मनुष्य मेरी पुकार बड़े-बड़े महलों को बनाकर मत डालो मुझ पर भार पेड़ पौधों को नष्ट करके मैं तो झाड़ू मेरा संसार धरती की बस यही पुकार । पृथ्वी हमारी धरोहर है इसकी रक्षा करना हमारा कर्तव्य है प्रकृति द्वारा कुछ चीजें उपहार के रूप में प्रकृति ने हमें सूर्य चांदल नदियां पहाड़ और धरती के नीचे छिपी हुई हमारी सहायता के लिए प्रदान किए हैं मनुष्य अपनी मेहनत से धन कमा सकता है लेकिन प्रकृति की धरोहर को अथक प्रयास करने के पश्चात भी बड़ा नहीं सकता प्रकृति द्वारा दी गई यह सभी चीजें सीमित हैं पर हम रहने वाले तमाम जीव जंतुओं और पेड़-पौधों को बचाने तथा दुनिया भर में पर्यावरण के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लक्ष्य के साथ 22 अप्रैल के दिन पृथ्वी दिवस यानी अर्थ डे मनाने की शुरुआत की गई थी 1970 में शुरू की गई इस परंपरा को 192 देशों ने खुली आंखों से अपनाया और आज लगभग पूरी दुनिया में प्रतिवर्ष पृथ्वी दिवस के मौके पर धरा की धनी चुनर को बनाए रखने और हर तरह के जीव जंतुओं को पृथ्वी पर उनके हिस्से का स्थान और अधिकार देने का संकल्प लिया जाता है उसके पश्चात सभी मंचासीन अतिथियों ने दीपप्रज्वलन किया ।ग्लोव के मॉडल को हाथ में लेकर संकल्प किया कि 5 जून को हम एक वृक्ष जरुर लगाएंगे, इस मौके पर नेत्रपाल सिंह प्राकृतिक चिकित्सक, डॉ. डी. के.जैन प्रधानाचार्य (सिटी पब्लिक स्कूल) टूण्डला राजेंद्र पाल सिंह (A.D.O.) खेतपाल सिंह(प्रधानाध्यापक)उ.प्र. भगवती प्रसाद सिंह(कृषक)सभी मंच पर रहे मौजूद।दूर दूर से आए हुए हमारे किसान भाई चुन्नीलाल भाई काले सिंह भाई प्रीत भाई मनोज भाई आदि उपस्थित रहे ।इसे सुंदर रूप देने वाली बहनें, तनु बहन ,पूजा बहन, प्राची बहन, चित्रा बहन, ममता बहन ,दीपू बहन आदि मौजूद रहे ।